Cool WhatsApp & Facebook Status {In Hindi}


Hello friends ! Two lines shayari is the best collection in hindi poetry who attract your friends, girlfriend/boyfriend, wife/husband or any person attraction towards you. In current time people don’t have time or like to read lenghty shayari and that reason we mostly all time sharing 2 line shayari that is in hindi and english language with use of easily understandable words.

निचे बॉक्स में अपनी E-mail ID भर कर Subscribe Button पर Click करे

A good Collection of Two Line Shayari in Hindi or Short Hindi Shayari to melt every heart with feelings of love and care. These दो लाइन शायरी consists fits for all mood, including romantic, dard & pyar,etc. types.



Read these collection of Two Line Shayari or Short Shayri with emotion like Love, Sadness, Hate, Attraction and express your feeling with your love and partner. Also you are free to share these Two Line Shayri or Short Shayri at social media like Facebook, Twitter and WhatsApp.

ज़िन्दगी की हर शाम हसीन हो जाए….,
अगर मेरी मोहब्बत मुझे नसीब हो जाये


बेगुनाह कोई नहीं, राज़ सबके होते हैं,
किसी के छुप जाते हैं, किसी के छप जाते हैं |


खुले आसमान के निचे बैठा हूँ …कभी तो बरसात होगी …..
एक बेवफा से प्यार किया हैं तो ज़िन्दगी कभी तो बर्बाद होगी


 कुछ लडकिया तो इतनी सुन्दर होती है के ,

मैं मन ही मन में खुद को रिजेक्ट कर लेता हु..


 हमे भी आते है अंदाज दिल तोडने के,

हर दिल मे खुदा बसता है ये सोच कर चूप हो जाते है..


 काश…!! एक खवाहिश पूरी हो इबादत के बगैर,

वो आ कर गले लगा ले मेरी इजाजत के बगैर..


 चलकर देखा है अक्सर, मैंने अपनी चाल से तेज,

पर वक्त, और तकदीर से आगे, कभी निकल न सके..


गुज़र गया दिन अपनी तमाम रौनके लेकर,

ज़िन्दगी ने वफ़ा कि तो कल फिर सिलसिले होंगे..


 कुछ ऐसी मोहहब्बत उसके दिल में भर दे ऐ खुदा ,

के वो जिसे भी चाहे वो मैं बन जाऊ..


 तेरी वफ़ा के तकाजे बदल गये वरना,

मुझे तो आज भी तुझसे अजीज कोई नहीं..


ज़िन्दगी की हक़ीक़त बस इतनी सी हैं,
की इंसान पल भर में याद बन जाता हैं


पास वो मेरे इतने कि दूरियो का कोई एहसास नहीं,
फिर भी जाने क्यों वो पास होकर भी मेरे पास नहीं


रुकावटें तो सिर्फ ज़िंदा इंसान के लिए हैं,
मय्यत के लिए तो सब रास्ता छोड देते हैं


कौन याद रखता हैं गुजरे हुए वक़्त के साथी को,
लोग तो दो दिन में नाम तक भुला देते हैं |


1 Comment

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.